नाजायज़ लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
नाजायज़ लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

बुधवार, जुलाई 8

मुखेटाबाज टिप्पणीकर्ता कोई नाजायज़ जिस्म होगा !

देर रात आज ऑफिस से लौटा हूँ नेट खोला तो भाई महेंद्र मिश्रा जी का यह आलेख पढ़कर दुःख हुआ, किसी का अश्लील अनाम टिप्पणीकार होना उसकी कुंठित बुद्धि का परिचायक है मुझे तो ये लोग नाजायज़ तरीके से दुनियाँ में फ़िर दुनिया से ब्लॉग जगत में आए लोग लगतें है। किसी के आलेख से असहमत होना स्वाभाविक है किंतु इस असहमति को इस तरह व्यक्त करना निकृष्टता है। ऐसे अनाम/गलीच/गंदे टिप्पणीकारों को ईश्वर जितनी ज़ल्दी हो सके सदगति दे ऐसी कामना है । महेंद्र जी हम सभी आपके साथ है ।