सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

ब्लाग-भूषण लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

ब्लाग-भूषण मिला, दाता का आभार : गिरीश बिल्लोरे

मुझे मुम्बई की जात्रा रद्द करनी पड़ी मुआ निमोनिया एन उस वक्त सामने आया जब कि अपने राम सपत्नीक जा रहे थे मुम्बई व्हाया नागपुर दिनांक 7 दिसम्बर 2011 की अल्ल सुबह किंतु देर रात तक खांसते-खांसते हालत हैदराबाद हुई जा रही थी. इधर मित्र गण काफ़ी खुश थे मुम्बई जात्रा से आऊंगा और सदर काफ़ी हाउस में एक लम्बी सिटिंग होगी.. बात-चीत के साथ साथ जलपान उदरस्थ करेंगे मिलजुल के ऐसा अमूमन होता ही है. पर गोया खड़ी फ़सल पे तुषारापात.. खैर माफ़ी नामा तो भाई मनीष मिश्रा जी से  अनिता कुमार जी से मांग ही चुका था पर ये क्या मन में बार बार एक ही विचार सुनामी की शक्ल ले रहा था -"वादे पे खरा न उतरा मैं उनसे क्या कहूंगा जिनने मेरे लिये समारोह में जगह बनाई" समयचक्र चलता रहा इस बात का दर्द कुछ कम हुआ पर नुकसान तो हुआ उतना नहीं जितना कि बीमार शरीर लेकर मुम्बई पहुंचता .  शुक्रवार दि. 09 दिसंबर 2011 को सुबह 10 बजे से कल्याण पश्चिम स्थित के. एम. अग्रवाल कला, वाणिज्य एवम् विज्ञान महाविद्यालय में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग संपोषित दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी सुनिश्चित थी।  `` हिन्दी ब्लागिंग : स्वरूप, व्याप