सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

चैट लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

किसी ने किसी को नहीं सुना दुनिया की सबसे लम्बी चैटिंग में

आज़ एक प्रयोग किया मैने अर्चना चाओजी से बात कर रहा था कि लगा इंदू ताई को भी बुलवां के टीचर्स डे मना लिया जावे फ़िरसोचाऔर लोगों  को जोड़ूं सो बस चैट चालू आपने indu को इस चैट के लिए आमंत्रित किया है.  यह अब एक समूह चैट है. एक अन्य व्यक्ति जोड़ें  archana chaoji शामिल हो गए हैं.  indu puri goswami शामिल हो गए हैं. मैं:  इन्दु ताइ भी साथ में है archana:  जी नमस्ते indu:  नमस्ते मैं:  ताइ को पहचानती हैं न आप indu:  कैसी हैं आप? archana:  जी नमस्ते ठीक हू indu:  कहाँ से हैं? मैं:  इनकी मज़ेदार बात सुनिये दौनो टीचर जी का अभिवादन indu:  क्या जॉब में हैं? archana:  इन्दौर indu:  हा हा हा archana:  स्पोर्ट्स टीचर ह्म्म्म्म्म्म्म indu:  अर्चना जी भी टीचर? मैं:  शिक्षक-दिवस है नाज़ indu:  बाप रे! मैं:  है दौनो पर archana:  अब गिरीश जी का शुक्रिया...... indu:  ज्यादा ऊंची न दो गिरीश archana:  शिक्शक दिवस पर इन्दुजी से मिलवाने के लिए indu:  खूब मिसयूज किया  सबने ताचर्स का मैं:  ताई को सम्मानित किया है आज़ जेन्ट्स क्लब ने indu:  इंसानों से लेके पशु तक गिनवा लिए archana:  वाह ....बधाई indu:  ओह टीचर्स का