सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

संकेतक लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

इन ऊंटों पर क्यों बैठूं सुना है इन पर बैठ कर भी कुत्ता काट लेता है कभी कभी !!

दाहिने मुड़िये  गड्ढे में जाईये   सड़कों पर लगे संकेतकों को देखिये   उनका अनुशरण कीजिये..... और सीधे.... ऊपर पंहुचिये... सड़कों पर लगे इन संकेतकों की असलबयानी मेरे कैमरे की जुबानी... !! सच है भारत में हम अपने घर और सड़कों पर कितने सुरक्षित हैं ये आप देख ही रहे हैं.. देश किधर जा रहा है ?   कभी सोचा आपने !! शायद सोचा होगा न भी सोचा हो तो कौन सा पहाड़ टूट जाएगा..  फ़िर सीधे ऊपर  संकेतकों की मानें तो हम जिधर जा रहे वो रास्ता सिर्फ़ ऊपर ही जाता है . सच कहूं भारत ही नहीं समूचा विश्व भ्रामक संकेतकों से भ्रमित है..  मैं कोई ट्रेवलाग नहीं लिख रहा हूं मित्रो..! सिर्फ़ एक एहसास शेयर कर रहा हूं.. सच भी ये है कि हम सारे लोग किसी न किसी भ्रामक संकेतक से अत्यधिक प्रभावित हैं. यक़ीनन हर संकेतक सही है यह समझना ही मुश्किल है. जीवन-जात्रा में आप दिन भर टी.वी. पर समाचार देखिये .. आप की आंखों पर अंधेरा तारी होगा. जो एंकर तय करेगा उसे आप सच मानने लगेंगें....कदाचित...! इन ऊंटों पर क्यों बैठूं सुना है इन पर बैठ कर भी कुत्ता काट लेता है कभी कभी         जब लोगों का सारा जीवन-दर्