सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

मुंबई लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

रेड फिल्म की दादी पुष्पा जोशी की जिंदादिली से चमका उनका सितारा ....!!

किसी ख़ास मुकाम पर पहुँचने के लिए कोई ख़ास उम्र, रंग-रूप, लिंग, जाति, धर्म, वर्ग का होना ज़रूरी नहीं जिसके सितारे को जब बुलंदी हासिल होनी होती है तब यकबयक हासिल हो ही जाती है. ये बात साबित होती है जबलपुर निवासी होसंगाबाद में सामान्य से परिवार जन्मी  85 वर्षीय बेटी श्रीमती पुष्पा जोशी के जीवन से . हुआ यूं कि उनके मुंबई निवासी पुत्र रवीन्द्र जोशी { जो कवि संगीतकार, एवं कहानीकार हैं, तथा हाल ही में बैंक से अधिकारी के पद से रिटायर्ड हुए हैं}  की कहानी ज़ायका से . श्री जोशी की कहानी “ज़ायका” उनकी पुत्र वधु हर्षिता श्रेयस जोशी, ने निर्देशित कर तैयार की जिसे  आभास-श्रेयस  यूँ ही यूट्यूब पर पोस्ट कर  दी. एक ही दिन में ३००० से अधिक दर्शकों तक  यूट्यूब के ज़रिये पंहुची फिल्म को बेहतर प्रतिसाद मिला. उसी दौरान फिल्म रेड की निर्माता कम्पनी के सदस्यों ने देखी . और जोशी परिवार को खोज कर रेड में अम्मा के किरदार के निर्वहन की पेशकश की . दादी यानी श्रीमती जोशी जो जबलपुर से मायानगरी  बैकबोन में दर्द का इलाज़ कराने पहुँची थी ने साफ़ साफ़ इनकार कर दिया. निर्माता राजकुमार गुप्ता एवं परिवार के समझाने पर बमुश्किल र

मुंबई न पहूंच पाने पर खेद

क ल्याण पश्चिम स्थित के एम अग्रवाल कॉलेज एवं अनिता कुमार जी के कॉलेज के कार्यक्रम में मुंबई जाना निश्चित हुआ था। पर स्वास्थ्यगत कारणों से उपस्थित होने में असमर्थ हूँ। ठंड लगने से अचानक स्वास्थ्य खराब हो गया। इसलिए के एम अग्रवाल कॉलेज के कार्यक्रम संयोजक, अनिता कुमार जी एवं अन्य मित्रों से क्षमा चाहूंगा। न पहुंच पाने के लिए खेद व्यक्त करता हूँ। ऐसा गिरीश दादा ने फ़ोन पर बताया और मुझे संदेश आप तक पहुंचाने कहा। ललित शर्मा