सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

कल्लू पहलवान लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

सानिया कहा था न कल्लू पहलवान हुंकार भरेंगें

ये रिंग है कल्लू भाई                                                  ++++++++++++++++++++++++++++++++++++++                                                                           लो भाई सानिया मिर्ज़ा को और उनके परिवार भोपाल की एक समाजी संस्था  ने कौम  से बाहर का रास्ता  दिखा दिया है. ?ये खबर सानिया मिर्ज़ा दूल्हे मियां सोएब मलिक और सानिया के अम्मी अब्बू की सेहत पर कितना असर डालती है  कोई नहीं जानता  किंतु    अध्य्क्ष कल्लू पहलवान ज़रूर प्रदेश भर में छाये रहे दिन भर .  मियां कल्लू पहलवान कुछ भी कल्लो बो तो ले गिया भिया पैले से इतिल्ला कर देते शोयेब को  और सानिया को तो शायद वो आपकी पेलवानी  {”पहलवानी”} का मान रख लेते भाई मियां ! अब क्या जाओ रमजानी के टपरे से ज़र्दे वाला पान लियाओ आज़ अखबार में नाम छपा है शायद मुफ़्त में इज़्ज़त सहित रमज़ानी गिलौरी पेश करे ... भाई- मियां हम तो सुनते हैं ये गीत भाई