सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पोस्ट

jabalpur लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

*धर्मयुद्ध : क्रूसेड्स, ज़ेहाद, महाभारत एवम लंका-विजय..!*

बाबूजी ने बताया था कि उनकी टेक्स्ट बुक में *एथेंस के सत्यार्थी* शीर्षक से एक पाठ था । उनके अनुसार एथेंस के सत्यार्थी तिमिर से प्रकाश की कल्पना करते हुए ज्योतिर्मय होना चाहते थे । जबकि सनातनी दर्शन में हम प्रकाश से महाप्रकाश में विलीन हो जाना चाहते हैं !  अब्राहम धर्मों के लोग कहते हैं - अल्लाह सबका है हर चीज पर उसका अधिकार है !  हम कहतें हैं - सबमें ब्रह्म है । परस्पर विरोधी विचार होने के बावज़ूद दौनों ही विचार युद्ध से विमुख करते हैं ।  ईसा मसीह कभी हिंसा पर भरोसा नहीं करते थे । तो फिर  फिर क्रूसेट क्यों हुए थे ? अथवा फिर ज़ेहाद क्यों होते हैं ? इसके अलावा सनातन आर्यावर्त्य के धर्मयुद्ध लंका-विजय एवम महाभारत हैं आइये सबसे पहले जानते हैं कि-  *धर्मयुद्ध क्या है ?*  क्रुसेड्स एवम ज़ेहाद से भिन्न हैं आर्यावर्त्य के धर्मयुद्ध ।  रामायण और महाभारत पढ़कर भी अगर हम यह नहीं जान सके की सनातन में धर्म युद्ध क्यों हुए थे अथवा धर्मयुद्ध क्या हैं ? तो इस परिभाषा को जानिए .... *"धर्मयुद्ध का अर्थ न्याय के समर्थन में किये गए युद्ध । जो भूमि सत्ता एवम कमज़ोर लोगों को धमकाने के लिए न किए

युवक का सिर काटा और लेकर पहुंच गई थाने

Deshbandhu जबलपुर !  जिला मुख्यालय से करीब 45 किलो मीटर दूर मझौली के एक गांव में एक महिला ने अपनी आबरू बचाने के लिए एक युवक की सिर को कुल्हाड़ी से काट धड़ से अलग कर दिया और सिर को बोरी में भरकर बहोरीबंद थाने पहुंचे गई। बोरी में मानव मुण्ड देख पुलिस कर्मी सकते में आ गए। बहोरीबंद पुलिस ने तत्काल महिला और सिर को लेकर मझौली थाने पहुंचे क्योंकि मामला मझौली थाना क्षेत्र का था। महिला का पति पहले से ही जेल में बंद है। उधर इस घटना के बाद से गांव में सनसनी व्याप्त है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, मझौली के आमोदा गांव में श्रीराम सेन अपनी पत्नी बच्चों के साथ रहता था। कुछ दिन पहले श्रीराम सेन  चोरी के एक मामले में पकड़ा गया और पुलिस ने उसे दमोह जेल भेज दिया। पति के जेल जाने के बाद  राजकुमारी सेन 35 वर्ष गांव में ही मेहनत मजदूरी करके घर चलाने लगी। बताया गया है कि ग्राम अमोदा के करीब पीडब्लूडी का कोई निर्माण कार्य चल रहा है। राजकुमारी यहां मजदूरी कर रही थी। कुछ दिनों से गांव का ही रहने वाला श्यामलाल यादव 38 वर्ष राजकुमारी को परेशान कर रहा था। यह बात कई लोगों को पता थी। आज दोपहर 3 बजे श्यामलाल यादव ने

मामाजी के दिलो दिमाग पे छा गई झांकी : मामीजी की चेहरे पर उत्साह के भाव थे गणतंत्र दिवस समारोह में : बेटी-बचाओ अभियान केंद्रित झांकी अव्वल

श्री युत के सी जैन स्वतंत्रता संग्राम सेनानी को सम्मानित करते हुए मामाजी  जबलपुर मे महिला बाल विकास विभाग की झांकी प्रथम स्थान पर रही. झांकी की  परिकल्पना:-गिरीश बिल्लोरे,मनीष शर्मा मनीष सेठ, एवम जी.एस. लौवंशी ने की थी  निर्माण सहायक श्री धीरज शाह   जिले   में   शान - सम्मान   और   गरिमा   से   मनाया   गया   गणतंत्र   दिवस मुख्यमंत्री   श्री   शिवराज   सिंह   चौहान   ने   जबलपुर   में   फहराया   राष्ट्र   ध्वज सांस्कृतिक   कार्यक्रमों   को   मुख्यमंत्री   ने   सराहा मुख्यमंत्री   ने   छात्र - छात्राओं   के   साथ   फोटो   खिंचवाई आकर्षण   का   केन्द्र   रही   झाँकियां गौरवशाली  63 वां   गणतंत्र   दिवस   जबलपुर   जिले   में   उत्साह ,  उमंग ,  शान ,  सम्मान   और   गरिमा   के   साथ समारोहपूर्वक   मनाया   गया   ।    जिला   मुख्यालय   पर   यहां   पं .  रविशंकर   शुक्ल   स्टेडियम   मैदान   में   आयोजित मुख्य   समारोह   में   मुख्यमंत्री   शिवराज   सिंह   चौहान   ने   राष्ट्रीय   ध्वज   फहराया   और   संयुक्त   परेड   की   सलामी   ली ।   गणतंत्र   दिवस  

“दिखावा खत्म : मंहगाई खत्म ”

श्री सतीश शर्मा की कृतिकार  “ दिखावा खत्म : मंहगाई खत्म ” से लाइव बात चीत 

तापसी नागराज नई-दुनिया द्वारा नायिका 2010 अवार्ड हेतु नामांकित

Tapsi Nagraj nominated for Naika Award in Art  & Culture category by NAI-DUNIYA JABALPUR kindly suport send your  vote by your  sms type  NVJ22 & send it to 53434

मधुकर एवं सव्यसाची अलंकरण :अखबारों में