पोस्ट

"पश्चाताप : आत्म-कथ्य"

"एक मुलाकात, एक फ़ैसला"

एक प्रेरणादायक प्रसंग--महेन्द्र मिश्र जी के ब्लॉग से

एक मुलाक़ात प्रशांत श्रीवास्तव के साथ

प्रशांत श्रीवास्तव शानू की ग़ज़ल

मुन्डी भेजो मुंडी

इलैक्ट्रानिक मीडिया को आत्म नियंत्रित होना ही होगा

अरे दिमाग पे असर कैसे होगा तुम्हारे दौनो कानों की घुटने से दूरी नापी कभी ?

ललित जी का पिटारा खुल गया और हम सी एम साब से न बतिया पाए

हां सोचती तो है कभी कभार छै: बरस की थी तब वो भी तो बन गई थी दुलहनियां

फ़ुल टाईम माँ----

एक निवेदन महेन्द्र मिश्र जी का...............

युनुस ज़ादु के साथ जबलपुर में

केवल हिन्दुस्तान के हक़ में दुआ कीजिये

"दुश्मनों के लिये आज़ दिल से दुआ करता हूं....!"

किसी ने किसी को नहीं सुना दुनिया की सबसे लम्बी चैटिंग में