रविवार, फ़रवरी 2

गाँव में घर-घर तक पानी पहुँचाया जायेगा : मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान डिण्डोरी

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि गाँव को समूह में जोड़कर पाइप लाइन से घर-घर में पानी पहुँचाया जायेगा।साथ ही खेतों तक सड़कों का निर्माण करने का काम भी शुरू हो गया है। श्री चौहान आज डिण्डोरी में 'आओ बनायें अपना मध्यप्रदेशसम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने 30 हजार 491 हितग्राही को विभिन्न योजना में 91 करोड़ 28 लाख रुपये के चेक वितरित किये। उन्होंने लगभग 27 करोड़ रुपये के लागत के निर्माण कार्यों का भूमि-पूजन एवं लोकार्पण किया। साथ ही 51 करोड़ के निर्माण कार्यों को मंजूरी दी।
शिलान्यास
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार जनता की अपेक्षाओं पर पूरी तरह खरी उतरेगी। समाज के हर वर्ग के सहयोग से प्रदेश को और समृद्ध तथा उन्नत बनाया जायेगा। उन्होंने इसके लिये सभी लोगों से सरकार के प्रयासों में भागीदार बनाने का आहवान किया। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा आदिवासी अंचलों के चौतरफा विकास पर विशेष रूप से ध्यान दिया जा रहा है। इसी कड़ी में डिण्डोरी जिले में सिंचाई की सुविधाओं के साथ-साथ खेती और उद्योग को बढ़ावा दिया जायेगा। जिले में खाद्य प्र-संस्करण इकाई खोलने के प्रयास भी किये जायेंगे। नये औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान भी खोले जायेंगे। उन्होंने कहा कि आदिवासी विद्यार्थियों को शिक्षा के बेहतर अवसर उपलब्ध करवाये जा रहे हैं। उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे अनुसूचित जातियों के लिये छात्र आवास योजना शुरू की गई है। इसमें किराये पर कमरा लेने वाले विद्यार्थियों का किराया सरकार चुकाती है।
बच्चों को लेपटाप दूंगा : शिवराज सिंह
श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में गरीबों को एक रुपये किलो गेहूँचावल और आयोडीनयुक्त नमक दिया जा रहा है। गरीबों के लिये अगले पाँच साल में 15 लाख आवास बनाये जायेंगे। अभी तक लाख लोगों को वनाधिकार-पत्र दिये जा चुके हैं और यह कार्य निरंतर जारी है। उन्होंने कहा कि सरकारी जमीन पर टपरियाँ बनाकर रहने वाले लोगों को मालिकाना हक के पट्टे दिये जायेंगे। उन्होंने उपस्थित जन-समुदाय को प्रदेश की उन्नति में भागीदार बनने का संकल्प भी दिलाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि अच्छा काम करने वाले सरकारी अधिकारी-कर्मचारी को पुरस्कृत किया जायेगा। वहीं लापरवाह लोगों को सजा दी जायेगी।
इस अवसर पर जिले के प्रभारी मंत्री श्री शरद जैन,विधायक श्री ओमप्रकाश धुर्वे और श्री ओमकार मरकाम ने भी सम्बोधित किया।
विकलांग को देख मुख्यमंत्री ने रोका अपना काफिला


अपनी गहरी संवेदनशीलता के लिये जाने जाने वाले मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अपनी डिण्डोरी यात्रा में एक विकलांग को घुटने के बल जाता देख अपना काफिला रोक लिया। वह सम्मेलन में शामिल होने जा रहा था। उन्होंने विकलांग अमर सिंह तेकाम से उसकी व्यथा सुनी और अपने काफिले के साथ वाली गाड़ी में बैठा लिया। वे उसे न केवल कार्यक्रम स्थल पर ले गये बल्कि मंच पर भी बैठाया। उन्होंने इस युवक की समस्याओं के निराकरण के लिये अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने सम्मेलन में स्वास्थ्य अधिकारियों को सभी नि:शक्तजन के स्वास्थ्य परीक्षण के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि आवश्यकता पड़ने पर उन्हें सरकारी खर्च पर इलाज के लिये दिल्ली-मुम्बई भेजा जायेगा।
बिदाई के पल 

कोई टिप्पणी नहीं:

Wow.....New

Ukrainian-origin teenager Carolina Proterisco

  Ukrainian-origin teenager Carolina Proterisco has been in the hearts and minds of music lovers around the world these days. Carolina Prote...

मिसफिट : हिंदी के श्रेष्ठ ब्लॉगस में