सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

श्लेष-अलंकार लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

तोता बोला मैना मौन ?

एक बाल गीत पेश है इस गीत में श्लेष-अलंकार का अनुप्रयोग है  











तोता बोला मैं न  मौन, बात मेरी बूझेगा कौन ?
************** एक अनजाना एक अनजानी राह पकड़ के चला गया कैसे नाचे ठुमुक   बंदरियाबंदरलड़केचला गया अपनाहीजबरूठाहोतोऔरोंसे जूझेगा कौन ?                                          तोता बोला मैं न  मौन, बात मेरी बूझेगा कौन ? ************** बूढ़े   बंदर   नेसमझाया   काहेबंदरियारोतीहै देह से छोटी होय चदरिया, किचकिच