मदिरा-सेवन लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
मदिरा-सेवन लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शुक्रवार, अक्तूबर 2

ड्राय-वीक

                                 
_____________________________________________________________________________
   ड्राय-वीक घोषित होने की खबर एन गांधी जयंती के एक दिन पहले अखबार में देख  सुरेश की पत्नि बेहद खुश थी सात दिन तक सुरेश मदिरा-सेवन नहीं करेंगा इस साल नौदुर्गा के तुरंत बाद ड्राय-वीक घोषित होने से सुरेश के परिवार में उत्साह सा था....बबलू कह रहा था पापा को अब हम सब समझा पाएंगे मुन्नी की राय थी कि पापा को शराब से दूर रखके उनके जीवन में सदाचार लाने के लिए ईश्वर ने अवसर दिया है....सारा परिवार गोया दीवाली मना रहा था ....दीवाली से पहले ही सपनों के दीप सजा रहे थे. 
     रात पत्नि को पति और बच्चों को पिता की प्रतीक्षा थी.दिन भर की थकन के बाद सुरेश बाबू घर आए तो पिछले बरस वाले तनाव से दूर मुस्कुराते हुए गृह-प्रवेश करते देखे गए.बच्चे कुछ अधिक उत्साहित थे.... बबलू मुन्नी को लग रहा था अब पापा रोज़ शाम को इसी तरह मुस्कुराते आएंगें उनकी इस सोच को तब धक्का लगा जब पापा बोले:-"सुनती हो इस ड्राय-वीक" में मुझे कोई समस्या नहीं पूरे हफ़्ते का जुगाड कर लिया है.