सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

एस.पी.सिंह लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

खबरिया चैनल आज़तक के संस्थापक एस.पी.सिंह का भावपूर्ण स्मरण किया गया

मुंबई । दिल्ली हो या मुंबई आधुनिक भारतीय पत्रकारिता के महानायक और हिंदी न्यूज़ चैनल 'आजतक' के संस्थापक संपादक सुरेंद्र प्रताप सिंह यानी एस.पी सिंह को चाहने वाले और मानने वाले हर जगह है. एस.पी.सिंह स्मृति  समारोह मुंबई में आयोजित किया गया तो यहाँ भी उनके चाहने वाले और साथ काम कर चुके पत्रकार पहुंचें. उनसे जुडी यादों को बांटा. उन्हें याद किया और भावुक भी हुए.  वरिष्ठ पत्रकार विश्वनाथ सचदेव ने एस.पी सिंह को याद करते हुए कहा कि उनकी सबसे बड़ी खासियत थी कि वे आने वाले कल को पहचानने की कोशिश करते थे और उसी हिसाब से नए - नए प्रयोग करते थे. उनके टेलीविजन के सफ़र पर बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि आजतक ने एस.पी को जो पहचान दी वह अद्वितीय है. बुलेटिन के अंत में एस.पी कहते थे, यह थी खबरें आजतक, इंतज़ार कीजिये कल तक और लोग इंतज़ार करते थे.  एस.पी. सिंह के ज़माने में आजतक के मुंबई ब्यूरो में कार्यरत नीता  कोल्हटकर ने एस.पी को याद करते हुए कहा कि अंग्रेजी माध्यम से होते हुए भी वे मुझे आजतक में लेकर आये. लेकिन उन्होंने कहा कि पंडिताना हिंदी को भूल जाओ. सरल, सहज और आम लोगों की भाषा का इस्तेमा…