मोहन शशि लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
मोहन शशि लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

रविवार, नवंबर 6

बेटी-बचाओ अभियान : वरिष्ट कवि मोहन शशि जी ने लिखी 587 पृष्ट लम्बी कविता "बेटे से बेटी भली "

जबलपुर के वरिष्ट रचनाकार साहित्यकार सोशल-एक्टीविस्ट एवम भास्कर जबलपुर के फ़ीचर-एडिटर  श्रीयुत मोहन "शशि" द्वारा लगातार हृदयाघातों के बावज़ूद बेटी के प्रति सामाजिक नकारात्मक्ता से मानसिक तौर पर विमुक्ति की के लक्ष्य को लेकर 587 पृष्ट लम्बी कविता "बेटे से बेटी भली " लिखी है.
मोहन शशि जी मध्य-प्रदेश की उसी मिलन संस्था के जनक हैं  जिस संस्था ने देश भर को एक सांस्कृतिक आंदोलन के लिये  दिशा दी थी.
शशि जी बातचीत का एक एपीसोड पेश है


शशि जी से  बैमबज़र पर एक भैंटवार्ता सुनिये


587 पृष्ठीय कविता जो मध्य-प्रदेश सरकार के बेटी-बचाओ अभियान का एक तरह से समर्थन है के लोकार्पण के पूर्व "मोहन शशि जी से  श्री विजय तिवारी किसलय की भेंटवार्ता" सुन सकते हैं .


 विस्तृत आलेख हिंदी साहित्य संगम पर अवश्य देखिये