मकडी लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
मकडी लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

बुधवार, अगस्त 27

नागफनी जिनके आँगन में


नागफनी जिनके आँगन में, उनके घर तक जाए कौन ?
घर जिनके जाले मकडी के, रेशम उनसे लाए कौन !

हर उत्तर से प्रश्न प्रसूते, प्रश्न-प्रश्न डूबे हैं उत्तर
प्रश्न चिन्ह जीवन जो हो तो ऐसा चिन्ह मिटाए कौन ?

चिन्तन के घट कुंठा रस मय, गीत जलाने लगे रहल ही
पथ पे बिखरे बेर के कांटे , खुद से बाहर जाए कौन ?  

मन ही मेरे मन का साथी, शीतल रश्मि समर्पण करता
मेरे अंतस  दीप उजागर ,  सूरज के गुन गाए कौन..?
जिज्ञासा दब गई भूख में पोथी पूज न पाया बचपन
चीख रहे हैं आज आंकड़े बूढ़ी आँख पढ़ाए ...?